Click here for Myspace Layouts

समर्थक

शनिवार, 31 अक्तूबर 2009

आज का सद़विचार 'आत्‍मदर्शन'

जो कला आत्‍मा को आत्‍मदर्शन
की शिक्षा नहीं देती, वह कला
नहीं है ।


- महात्‍मा गांधी

शुक्रवार, 30 अक्तूबर 2009

आज का सद़विचार 'क्रोध की अवस्‍था'

जिस तरह उबलते हुए पानी में हम अपना,
प्रतिबिम्‍ब नहीं देख सकते उसी तरह क्रोध
की अवस्‍था में यह नहीं समझ पाते कि
हमारी भलाई किस बात में है ।

- महात्‍मा बुद्ध

बुधवार, 28 अक्तूबर 2009

आज का सद़विचार 'पूर्णता'

न रगड़ के बिना रत्‍न पर पालिश होती है,
न कठिनाइयों के बिना मानव में पूर्णता
आती है ।

- लाओत्‍सेज

मंगलवार, 27 अक्तूबर 2009

आज का सद़विचार 'गरीब'

गरीब वह नहीं जिसके पास कम है,
बल्कि धनवान होते हुए भी जिसकी
इच्‍छा कम नहीं हुई है, वह सबसे
अधिक गरीब है ।

- विनोबा भावे

सोमवार, 26 अक्तूबर 2009

आज का सद़विचार 'वस्‍तु चिंतन'

जो अप्राप्‍त वस्‍तु के लिए चिंता नहीं करता और
प्राप्‍त वस्‍तु के लिए सम रहता है, वह संतुष्‍ट
कहा जा सकता है ।

- महोपनिषद

शनिवार, 24 अक्तूबर 2009

आज का सद़विचार 'आत्‍मसंयम'

आत्‍मसंयम, अनुशासन और
बलिदान के बिना राहत या
मुक्ति की आशा नहीं की
जा सकती ।

- महात्‍मा गांधी

शुक्रवार, 23 अक्तूबर 2009

आज का सद़विचार 'शुद्ध'

जल से शरीर शुद्ध होता है, मन से सत्‍य शुद्ध होता है,
विद्या और तप से भूतात्‍मा तथा ज्ञान से बुद्धि शुद्ध होती है ।


- मनुस्‍मृति

गुरुवार, 22 अक्तूबर 2009

आज का सद़विचार 'शेष'

शेष ऋण, शेष अग्नि, तथा शेष रोग पुन: पुन: बढ़ते हैं,
अत: इन्‍हें शेष नहीं छोड़ना चाहिये ।

- अज्ञात

बुधवार, 21 अक्तूबर 2009

आज का सद़विचार ' ताकतवर'

ताकतवर होने के लिए अपनी शक्ति में
भरोसा रखना जरूरी है, वैसे व्‍यक्तियों से
अधिक कमजोर कोई नहीं होता जिन्‍हें
अपने सामर्थ्‍य पर भरोसा नहीं ।

- स्‍वामी दयानंद सरस्‍वती

मंगलवार, 20 अक्तूबर 2009

आज का सद़विचार 'मूर्ख पर विजय'

मूर्खों से बहस करके कोई भी व्‍यक्ति,
बु्द्धिमान नहीं कहला सकता, मूर्ख पर
विजय पाने का एकमात्र उपाय यही है
कि उसकी ओर ध्‍यान नहीं दिया जाए ।

- संत ज्ञानेश्‍वर

गुरुवार, 15 अक्तूबर 2009

आज का सद़विचार 'लोभी'

लोभी को पूरा संसार मिल जाए तो भी वह,
भूखा रहता है, लेकिन संतोषी का पेट,
एक रोटी से ही भर जाता है ।

- शेख सादी

मंगलवार, 13 अक्तूबर 2009

आज का सद़विचार 'सम्‍मान'

दौलत से आदमी को जो सम्‍मान मिलता है,
वह उसका नहीं, उसकी दौलत का सम्‍मान है ।

- प्रेमचन्‍द

गुरुवार, 8 अक्तूबर 2009

आज का सद़विचार 'दरिद्रता'

दरिद्रता सब पापों की जननी है,
तथा लोभ उसकी सबसे
बड़ी संतान है ।

- जयशंकर प्रसाद

मंगलवार, 6 अक्तूबर 2009

आज का सद़विचार 'पवित्रता'

काहिली और मन की पवित्रता,
एक साथ नहीं रह सकतीं ।

- महात्‍मा गांधी

गुरुवार, 1 अक्तूबर 2009

आज का सद़विचार 'सच्‍चा व्‍यवहार'

यदि आप चाहते हैं कि लोग आपके
साथ सच्‍चा व्‍यवहार करें तो आप
खुद सच्‍चे बनें और अन्‍य लोगों से
भी सच्‍चा व्‍यवहार करें ।

- महर्षि अरविन्‍द