Click here for Myspace Layouts

समर्थक

मंगलवार, 31 जनवरी 2012

आज का सद़विचार '' ज़हरीला प्‍याला ''

चापलूसी का ज़हरीला प्‍याला आपको तब तक, 
नुकसान नहीं पहुंचा सकता जब तक कि आपके 
कान उसे अमृत समझ कर पी न जाएं ........

-प्रेमचन्‍द

सोमवार, 30 जनवरी 2012

आज का सद़विचार '' मनुष्‍य का बड़प्‍पन ''

मनुष्‍य का बड़प्‍पन धन-सम्‍पत्ति में नहीं 
अपितु सबके हित में कार्य करने में छिपा होता है ....

- महात्‍मा गांधी

शनिवार, 28 जनवरी 2012

आज का सद़विचार '' हास्‍य वह यंत्र ''

हास्‍य वह यंत्र है, जिसके अभाव में
हमारा जीवनरूपी यंत्र बिगड़ जाता है..

- स्‍वामी रामतीर्थ

बुधवार, 25 जनवरी 2012

आज का सद़विचार '' लगन का महत्‍व ''

मानव जीवन में लगन का बड़ा महत्‍व है,
जिसमें लगन है वह वृद्ध भी जवान है लेकिन 
जिसमें लगन नहीं है वह जवान भी मृत जैसा है ।

- प्रेमचन्‍द

शनिवार, 21 जनवरी 2012

आज का सद़विचार '' ज्ञान प्रेम का ''

ज्ञान में प्रेम छिपा है और प्रेम ही जीवन का आधार है, 
अत: ज्ञान प्रेम का ही पर्याय है  ............. 

- स्‍वामी परमानन्‍द 

शुक्रवार, 20 जनवरी 2012

आज का सद़विचार '' प्रत्‍येक व्‍यक्ति से ''

जीवन में प्रत्‍येक व्‍यक्ति से 
शिक्षा ग्रहण की जा सकती है .. 
- दत्‍तात्रेय

बुधवार, 18 जनवरी 2012

आज का सद़विचार '' महान कार्य ''

बिना ज़ोश के आज तक कोई भी, 
महान कार्य नहीं ह‍ुआ ..... 
- सुभाष चन्‍द्र बोस

सोमवार, 16 जनवरी 2012

आज का सद़विचार '' कर्म करने पर ''

मनुष्‍य का कर्म करने पर अधिकार है, 
लेकिन उसका फल प्राप्‍त करने पर 
अधिकार नहीं है ........... 
- गीता

शुक्रवार, 13 जनवरी 2012

आज का सद़विचार '' जल के द्वारा अग्नि ''

जैसे जल के द्वारा अग्नि को शांत किया जाता है, 
वैसे ही ज्ञान से मन को शांत रखना चाहिए ...... 

- वेद व्‍यास


गुरुवार, 12 जनवरी 2012

आज का सद़विचार '' नमस्‍कार करना ''

नमस्‍कार करना एक वैज्ञानिक पद्धति है, 
जहां जुड़े हुए हाथ और चरणों में झुका हुआ माथा 
सकारात्‍मक ऊर्जा प्राप्‍त करता है ....................... 

- साधना योग

बुधवार, 11 जनवरी 2012

आज का सद़विचार '' शाला में ''

शाला में नया छात्र कुछ लेकर नहीं आता
और पुराना कुछ लेकर नहीं जाता फिर भी 
वहां ज्ञान का विकास होता है .... 
- अज्ञात


सोमवार, 9 जनवरी 2012

आज का सद़विचार '' निखरता है ''

कष्‍ट पड़ने पर भी साधु पुरूष मलिन नहीं होते जैसे 
सोने को जितना तपाया जाता है वह उतना ही निखरता है ... 

- कबीर




शुक्रवार, 6 जनवरी 2012

आज का सद़विचार '' अपनी छाया में ''

वृक्ष अपने सिर पर गर्मी सहता है पर 
अपनी छाया में  दूसरों का ताप दूर करता है ... 

- तुलसीदास 

बुधवार, 4 जनवरी 2012

आज का सद़विचार '' मौन ''

क्रोध को जीतने में मौन, जितना सहायक होता है, 
उतनी कोई भी वस्‍तु नहीं ... 

- महात्‍मा गांधी 

सोमवार, 2 जनवरी 2012

आज का सद़विचार '' गुण-दोषों का विवेचन ''

सब प्राचीन अच्‍छा और सब नया बुरा नहीं होता, 
बुद्धिमान पुरूष स्‍वयं परीक्षा द्वारा 
गुण-दोषों का विवेचन करते हैं ....।

- कालिदास