Click here for Myspace Layouts

समर्थक

गुरुवार, 29 अप्रैल 2010

आज का सद़विचार 'गरीब'

सिर्फ धन कम रहने से कोई गरीब नहीं होता,
यदि कोई व्‍यक्ति धनवान है और इसकी इच्‍छाएं
ढेरों हैं तो वही सबसे गरीब है ।

- विनोबा भावे

गुरुवार, 8 अप्रैल 2010

आज का सद़विचार 'मनोरंजन'

सबसे कम खर्चीला मनोरंजन होता है
श्रेष्‍ठ पुस्‍तकों के अध्‍ययन से और यह
स्‍थाई होता है ।

- जार्ज बनार्ड शॉ

बुधवार, 7 अप्रैल 2010

आज का सद़विचार 'अंत:करण'

जिस प्रकार मैले दर्पण में सूरज का
प्रतिबिम्‍ब नहीं पड़ता, उसी प्रकार
मलिन अंत:करण में ईश्‍वर के
प्रकाश का प्रतिबिम्‍ब नहीं पड़
सकता ।

मंगलवार, 6 अप्रैल 2010

आज का सद़विचार 'सफलता का मूल'

हताश न होना ही सफलता
का मूल है और यही परम
सुख है ।


- वाल्‍मीकि

सोमवार, 5 अप्रैल 2010

आज का सद़विचार ''जंजीरें''

जंजीरें, जंजीरें ही हैं, चाहे वे
लोहे की हों या सोने की, वे
समान रूप से तुम्‍हें गुलाम
बनाती हैं ।

- स्‍वामी रामतीर्थ

शनिवार, 3 अप्रैल 2010

आज का सद़विचार 'शिक्षा'

जो शिक्षा मनुष्‍य को संकीर्ण और स्‍वार्थी
बना देती है, उसका मूल्‍य किसी युग में
चाहे जो रहा हो, अब नहीं है ।

- शरतचन्‍द्र चट्टोपाघ्‍याय

गुरुवार, 1 अप्रैल 2010

आज का सद़विचार 'आचरण'

हम स्‍वभाव के मुताबिक सोचते हैं,
कायदे के मुताबिक बोलते हैं,
रिवाज के मुताबिक आचरण करते हैं ।

- फ्रांसिस बेकन