Click here for Myspace Layouts

समर्थक

शनिवार, 7 अगस्त 2010

आज का सद़विचार ' आंसू भरी आंखे '

यदि तुम जीवन से सूर्य के जाने पर रो पड़ोगे
तो आंसू भरी आंखे सितारे कैसे देख सकेंगी ।

- रवीन्‍द्रनाथ ठाकुर

3 टिप्‍पणियां:

यह सद़विचार आपको कैसा लगा अपने विचारों से जरूर अवगत करायें आभार के साथ 'सदा'