Click here for Myspace Layouts

समर्थक

सोमवार, 2 जनवरी 2012

आज का सद़विचार '' गुण-दोषों का विवेचन ''

सब प्राचीन अच्‍छा और सब नया बुरा नहीं होता, 
बुद्धिमान पुरूष स्‍वयं परीक्षा द्वारा 
गुण-दोषों का विवेचन करते हैं ....।

- कालिदास

4 टिप्‍पणियां:

  1. आपको एवं आपके परिवार के सभी सदस्य को नये साल की ढेर सारी शुभकामनायें !

    उत्तर देंहटाएं
  2. प्रस्तुति अच्छी लगी । मेरे नए पोस्ट " जाके परदेशवा में भुलाई गईल राजा जी" पर आके प्रतिक्रियाओं की आतुरता से प्रतीक्षा रहेगी । नव-वर्ष की मंगलमय एवं अशेष शुभकामनाओं के साथ ।

    उत्तर देंहटाएं

यह सद़विचार आपको कैसा लगा अपने विचारों से जरूर अवगत करायें आभार के साथ 'सदा'