Click here for Myspace Layouts

समर्थक

गुरुवार, 17 दिसंबर 2009

आज का सद़विचार 'संयमित'

जो स्‍वयं संयमित व नियंत्रित है उसे,
व्‍यर्थ में और अधिक नियंत्रित नहीं
करना चाहिये, जो अभी अनियंत्रित है,
उसी को निय‍ंत्रित किया जाना चाहिए ।

- अथर्ववेद

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह सद़विचार आपको कैसा लगा अपने विचारों से जरूर अवगत करायें आभार के साथ 'सदा'