Click here for Myspace Layouts

समर्थक

शनिवार, 17 जुलाई 2010

आज का सद़विचार ' उत्‍पत्ति'

पुरूषार्थ से दरिद्रता का नाश होता है,
और जप से पाप का, मौन से कलह
की उत्‍पत्ति नहीं होती, और सजगता
से भय की ।


- चाणक्‍य

2 टिप्‍पणियां:

यह सद़विचार आपको कैसा लगा अपने विचारों से जरूर अवगत करायें आभार के साथ 'सदा'