Click here for Myspace Layouts

समर्थक

सोमवार, 30 अप्रैल 2012

आज का सद़विचार '' संयम की भूमि ''

जीवन की जड़ संयम की भूमि में जितनी गहरी जमती है, 
और सदाचार का जितना जल दिया जाता है उतना ही
जीवन हरा - भरा होता है और उसमें ज्ञान का 
मधुर फल लगता है .... 

- मुक्‍ता

गुरुवार, 26 अप्रैल 2012

आज का सद़विचार '' सोचता है ''

जो सोचता है कर पाएगा वह कर पाता है, 
और जो नहीं कर पाने की सोचता है वह
नहीं कर पाता है, यह एक अनवरत
निर्विवाद नियम है .... 

- पॉब्‍लो पिकासो

शनिवार, 21 अप्रैल 2012

आज का सद़विचार ''असंभव''

शुरू में वह कीजिए जो आवश्‍यक है, फिर वह जो संभव है 
और अचानक आप पाएंगे कि आप तो वह कर रहें हैं 
जो असंभव की श्रेणी में आता है ... 

- संत फ्रांसिस

बुधवार, 18 अप्रैल 2012

आज का सद़विचार '' अच्‍छा वक्‍ता ''

अच्‍छा वक्‍ता वह नहीं जो सुंदर बोलने वाला हो, अपितु वह है
 जिसका अंतरंग किसी विश्‍वास से ओतप्रोत हो ... 

 - इमर्सन 

सोमवार, 16 अप्रैल 2012

आज का सद़विचार '' महान बनने का अवसर ''

समय प्रत्‍येक व्‍यक्ति को महान बनने का
अवसर प्रदान करता है, यह व्‍यक्ति पर 
निर्भर करता है कि वह उसका लाभ 
कैसे उठा सकता है ... 

- लाल बहादुर शास्‍त्री 

बुधवार, 11 अप्रैल 2012

आज का सद़विचार '' सभी को घमंड होता है ''

प्रभुता महत्‍व और पद पाकर सभी को घमंड होता है, 
मनुष्‍य रूप में ऐसा कोई नहीं पैदा हुआ जो तीनों को 
पाकर नम्र रहे .... 

- रामचरित मानस 

सोमवार, 9 अप्रैल 2012

आज का सद़विचार ''नैतिक पहलू''

जीवन की दुर्घटनाओं में अक्‍सर 
बड़े महत्‍व के नैतिक पहलू छिपे हुए होते हैं ...

- प्रेमचंद 

बुधवार, 4 अप्रैल 2012

आज का सद़विचार '' देश को भय ''

देश को भय सदा मूर्ख और 
स्‍वार्थी लोगों से रहता है 
जानकारों से नहीं ...  

- गोपाल कृष्‍ण गोखले 

सोमवार, 2 अप्रैल 2012

आज का सद़विचार '' पीठ पीछे ''

मिलने पर मित्र का आदर करो, पीठ पीछे प्रशंसा करो 
और आवश्‍यकता के समय उसकी मदद करो ... 

- अज्ञात