Click here for Myspace Layouts

समर्थक

सोमवार, 2 अप्रैल 2012

आज का सद़विचार '' पीठ पीछे ''

मिलने पर मित्र का आदर करो, पीठ पीछे प्रशंसा करो 
और आवश्‍यकता के समय उसकी मदद करो ... 

- अज्ञात

3 टिप्‍पणियां:

  1. जो पीठ के पीछे
    वह नहीं कह सकता जो
    सामने कहता
    मित्र नहीं होता

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत ही सुंदर प्रस्तुति । मेरे नए पोस्ट पर आपका बेसब्री से इंतजार रहेगा । धन्यवाद ।

    उत्तर देंहटाएं

यह सद़विचार आपको कैसा लगा अपने विचारों से जरूर अवगत करायें आभार के साथ 'सदा'