Click here for Myspace Layouts

समर्थक

गुरुवार, 17 फ़रवरी 2011

आज का सद़विचार '' उत्‍साह ''

हताश न होना सफलता का मूल है और,
यही परम सुख है, उत्‍साह मनुष्‍य को
कर्मों के लिये प्रेरित करता है और उत्‍साह
ही कर्म को सफल बनाता है .......।


- वाल्‍मीकि

2 टिप्‍पणियां:

यह सद़विचार आपको कैसा लगा अपने विचारों से जरूर अवगत करायें आभार के साथ 'सदा'