Click here for Myspace Layouts

समर्थक

बुधवार, 3 अगस्त 2011

आज का सद़विचार '' तस्‍वीर का दूसरा पहलू ''

निरंतर सफलता हमें संसार का केवल एक ही
पहलू दिखाती है, विपत्ति हमें तस्‍वीर का दूसरा
पहलू भी दिखाती है ...........।


- कोल्‍टन

8 टिप्‍पणियां:

  1. सत्य!! दुख को महसुस किए बिना सुख की अनिवार्यता कैसे निश्चित होगी।

    उत्तर देंहटाएं
  2. सुख दुःख की तरह सफलता और विपत्ति सिक्के के दो पहलु हैं! बहुत सुन्दर और सटीक लिखा है आपने !
    मेरे नए पोस्ट पर आपका स्वागत है-
    http://seawave-babli.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  3. विपत्ति में ही मनुष्य के गुणों की सही पहचान होती है ..

    उत्तर देंहटाएं
  4. विपत्ति हमें तस्‍वीर का दूसरा
    पहलू भी दिखाती है ...........।

    very appealing thought indeed !

    .

    उत्तर देंहटाएं

यह सद़विचार आपको कैसा लगा अपने विचारों से जरूर अवगत करायें आभार के साथ 'सदा'