Click here for Myspace Layouts

समर्थक

बुधवार, 1 जुलाई 2009

आज का सद़विचार 'विधि'

धर्म जीवन को परमात्‍मा में जीने की विधि है,
संसार में ऐसे जिया जा सकता है जैसे,
कमल सरोवर के कीचड़ में जीते हैं ।

- आचार्य रजनीश

1 टिप्पणी:

यह सद़विचार आपको कैसा लगा अपने विचारों से जरूर अवगत करायें आभार के साथ 'सदा'